लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows

आज का युग कम्प्यूटर का युग है। आज के जीवन मे सभी को कम्प्यूटर की बेसिक जानकारी होनी चाहिए। बहुत सी प्रतियोगी परीक्षाओं में भी कम्प्यूटर से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इसीलिए हमारी साइट hindiamrit.com कम्प्यूटर से जुड़ी समस्त महत्वपूर्ण टॉपिक की श्रृंखला पेश करती है,जो आपके लिए अति महत्वपूर्ण साबित होगी,ऐसी हमारी आशा है। अतः आज का हमारा टॉपिक लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows की जानकारी प्रदान करना है।

लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows

लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows
लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows

difference between Linux and windows / लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर

Tags – लिनक्स और विंडोज में अंतर,difference between linux and windows operating system,difference between linux and windows in hindi,लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows,


लाइनेक्स व विण्डोज परिचालन प्रणाली में अन्तर
(Difference between LINUX and Windows Operating System)


(1) विण्डोज एक एकल प्रयोक्ता (Single User) परिचालन प्रणाली है, जबकि लाइनेक्स एक बहु प्रयोक्ता (Multi User) परिचालन प्रणाली है। किन्तु लाइनेक्स व विण्डोज दोनों ही बहु प्रोग्राम (Multi Program) प्रणाली हैं अर्थात् दोनों ही एक समय में एक से अधिक प्रोग्राम का क्रियान्वयन कर सकती हैं।


(2) विण्डोज परिचालन प्रणाली का विकास माइक्रोसॉफ्ट कार्पोरेशन (यू. एस. ए.) द्वारा मुख्य रूप से माइक्नो कम्प्यूटर वर्ग के लिए किया गया है। यह 30386 व उसके बाद के कम्प्यूटरों पर कार्य कर सकता है, जबकि लाइनेक्स यूनिक्स के समान सभी वर्ग के कम्प्यूटरों का परिचालन कर सकता है।

ये भी पढ़ें-  शिक्षण अधिगम सामग्री - महत्व,आवश्यकता, उद्देश्य, विशेषताएं,प्रयोग करने में सावधानियां | teaching learning materials ( TLM )


(3) विण्डोज परिचालन प्रणाली में मात्र एक ही विण्डो मैनेजर सॉफ्टवेयर होता है, जबकि लाइनेक्स में एक से अधिक विण्डो मैनेजर सॉफ्टवेयर का प्रावधान है।


(4) विण्डोज परिचालन प्रणाली के सॉफ्टवेयर में कोई प्रयोक्ता न तो संशोधन कर सकता है और न ही कोई नया प्रोग्राम संलान कर सकता है, इसका अधिकार मात्र उसको निर्माता कम्पनी के पास ही होता है, जबकि लाइनेक्स के ग्राफिक वातावरण के सॉफ्टवेयर में प्रयोक्ता संशोधन कर नये सॉफ्टवेयर संलग्न कर सकता है क्योंकि लाइनेक्स के सॉफ्टवेयर के साथ उसका मूल प्रोग्राम अर्थात् सोर्स कोड (Source Code) भी प्रयोक्ता को प्रदान किया जाता है, इसी कारण से लाइनेक्स को ओपन सोर्स (Open Source) सॉफ्टवेयर कहते हैं।


(5) विण्डोज परिचालन प्रणाली मात्र माइक्रो कम्प्यूटर्स पर परिचालित होती है, जबकि लाइनेक्स मिनी व मेनफ्रेम कम्प्यूटरों पर भी कार्य करती है।


(6) विण्डोज का प्रयोक्ता को मूल्य चुकाना पड़ता है जबकि लाइनेक्स पूर्णतया मुफ्त उपलब्ध है।



आपके लिए अन्य विषय की सम्पूर्ण श्रृंखला

टेट / सुपरटेट सम्पूर्ण हिंदी कोर्स

50 मुख्य टॉपिक पर  निबंध पढ़िए

                             ◆◆ निवेदन ◆◆

हमें आशा है कि आज के इस आर्टिकल में अपने जरूर कुछ नया सीखा होगा। आप इस टॉपिक लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows को अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें। आपको यह आर्टिकल पढ़कर कैसा लगा इसकी जानकारी हमे कॉमेंट करके जरूर बताएं। आपका एक कॉमेंट हमारे लिए उपयोगी एवं प्रेरणादायक सिद्ध होगा।

Tags – लिनक्स और विंडोज में अंतर,difference between linux and windows operating system,difference between linux and windows in hindi,लिनेक्स और विंडोज़ में अंतर / difference between Linux and windows,

Leave a Comment