रुधिर और लसीका में अंतर difference between blood and lymph-

लसीका क्या है,रुधिर और लसीका में अंतर क्या है- दोस्तों आज hindiamrit.com  आपको इसी टॉपिक की संपूर्ण जानकारी प्रदान करेगा। जिसमें हम लोग आज रुधिर और लसीका में अंतर,रुधिर क्या है, लसीका क्या है, लसीका और रुधिर में अंतर लिखिए,रक्त और लसीका में अंतर, difference between lymph and blood, difference between blood and lymph, आदि मुख्य बिंदुओं को कवर करेंगे।

रुधिर और लसीका में अंतर लिखिए,रुधिर और लसीका में क्या अंतर है, रक्त और लसीका में अंतर, रुधिर और लसीका में अंतर, रुधिर क्या है,लसीका क्या है, लसीका का कार्य प्लाज्मा क्या है, प्लाज्मा में कौन-कौन से पदार्थ पाए जाते हैं, रुधिर के भाग रक्त के भाग, रुधिर का PH मान क्या होता है, रुधिर का PH मान कितना होता है, ब्लड ग्रुप की खोज किसने की,रुधिर की खोज किसने की, रक्त की खोज किसने की, रुधिर परिसंचरण की खोज किसने की,ब्लड सर्कुलेटरी सिस्टम की खोज किसने की, लसीका और रुधिर में अंतर, लसीका और रक्त में क्या अंतर है, difference between blood and lymph,rudhir aur laseeka me antar,rakt aur laseeka me antar,
Difference between blood and lymph

रक्त/रुधिर क्या है | what is blood

रुधिर संयोजी ऊतक का रूपांतर है तथा द्रव्य की भांति प्रवाहित हो सकने के कारण तरल संयोजी ऊतक कहलाता है।

यह वाहिनिओं द्वारा शरीर के प्रत्येक अंग में बहता रहता है तथा पदार्थों के परिवहन का कार्य करता है।

अतः इसे परिसंचारी ऊतक (circulatory tissue) भी कहते हैं।

रक्त का प्रमुख कार्य ऑक्सीजन को फेफड़ों से शरीर के सभी भागों में पहुंचाना तथा कार्बन डाइऑक्साइड को शरीर के भागों से फेफड़े तक लाना है।

इसके अतिरिक्त पोषण पदार्थ,वर्ज्य पदार्थ, हार्मोन आदि भी रुधिर द्वारा शरीर के भाग से दूसरे भाग में पहुंचाए जाते हैं।

ये भी पढ़ें-  खाद्य श्रृंखला और खाद्य जाल में अंतर || difference between food chain and food web

मानव शरीर में रक्त की मात्रा शरीर के भार की लगभग 7 से 8% होती है।
इस प्रकार एक औसत भार लगभग 70 किलोग्राम वाले स्वस्थ मनुष्य के शरीर में लगभग 5 से 5.5 लीटर रुधिर होता है।
स्त्रियों में पुरुषों की अपेक्षा रक्त की मात्रा कम होती है।


रुधिर का PH मान कितना होता है, ब्लड ग्रुप की खोज किसने की,रुधिर की खोज किसने की, रक्त की खोज किसने की, रुधिर परिसंचरण की खोज किसने की,ब्लड सर्कुलेटरी सिस्टम की खोज किसने की, लसीका और रुधिर में अंतर, difference between blood and lymph,rudhir aur laseeka me antar,rakt aur laseeka me antar,रुधिर और लसीका में अंतर लिखिए,रक्त और लसीका में अंतर, रुधिर क्या है,लसीका क्या है, लसीका का कार्य प्लाज्मा क्या है, प्लाज्मा में कौन-कौन से पदार्थ पाए जाते हैं, रक्त के भाग, रुधिर का PH मान क्या होता है,रक्त के घटक,

रुधिर और लसीका सेे संबंधित परीक्षा उपयोगी प्रश्न

रुधिर का PH मान कितना होता है-

इसका का PH का मान 7.35 – 7.45 होता है।

रुधिर की खोज किसने की-

इसकी की खोज  कार्ल लैंडस्टीनर ने की।

रुधिर घटक या ब्लड ग्रुप की खोज किसने की-

ब्लड ग्रुप की खोज कार्ल लैंडस्टीनर ने की।


रुधिर परिसंचरण (blood circulatory system) की खोज किसने की –

इसकी खोज विलियम हार्वे ने की।

WBC का उत्पादन तथा RBC का विनाश कहा पर होता है

यह दोनों कार्य प्लीहा में होते है।

रुधिर के भाग या घटक-

इसके दो प्रमुख घटक है-
(1) प्लाज्मा और (2) रुधिर कणिकाएं

(1) प्लाज्मा (plasma)-

यह हल्के पीले रंग का तरल होता है।
रुधिर का 55 से 60% भाग होता है। इसमें 90 से 92 प्रतिशत जल होता है। तथा बाकी 8 से 10% में कई प्रकार के कार्बनिक व अकार्बनिक पदार्थ होते हैं।

ये भी पढ़ें-  प्रगामी और अप्रगामी तरंगों में अंतर || difference between progressive and stationary waves

इसमें कार्बनिक पदार्थ में सोडियम क्लोराइड तथा सोडियम बाइकार्बोनेट मुख्य रूप से होते हैं।
इसके अतिरिक्त कैल्शियम मैग्नीशियम व पोटेशियम के फास्फेट व बाइकार्बोनेट की सूक्ष्म मात्रा पाई जाती है।

इसी कारण रुधिर हल्का सा क्षारीय होता है।

तथा कार्बनिक पदार्थों में अमीनो अम्ल, ग्लूकोज,वसीय अम्ल,ग्लिसरॉल,प्रोटीन, अमोनिया, यूरिया तथा यूरिक अम्ल, फास्फोलिपिड, कोलेस्टेरॉल तथा कुछ विटामिन होते हैं।

(2) रुधिर कणिकाएं (Blood Corpuscles)-

यह रुधिर का 40 से 45% भाग होती है।

रुधिर कणिकाएं तीन प्रकार की होती हैं –

(1) लाल रुधिर कणिकाएं

(2) श्वेत रुधिर कणिकाएं

(3) प्लेटलेट्स

लाल रुधिर कणिकाओं में लौहयुक्त प्रोटीन पाया जाता है जिसे हीमोग्लोबिन कहते हैं। जिसमें हीमो वर्णक होता है इसका रंग लाल होता है।

इसी कारण रुधिर कणिकाएं लाल होती हैं और इसी कारण रुधिर का रंग लाल होता है।

हमारे चैनल को सब्सक्राइब करके हमसे जुड़िये और पढ़िये नीचे दी गयी लिंक को टच करके विजिट कीजिये ।

https://www.youtube.com/channel/UCybBX_v6s9-o8-3CItfA7Vg

लसीका क्या है | what is lymph

यह एक रंगहीन तरल पदार्थ है। जो उतकों  एवं रुधिर वाहिनियों के बीच के रिक्त स्थान में पाया जाता है।

लसीका सदैव एक दिशा में बहता है ऊतकों से हृदय की ओर।

यह रुधिर प्लाज्मा का ही अंश है जो रक्त केशिकाओं (Blood
capillaries) की पतली दीवारों से विसरण (diffusion)  द्वारा बाहर निकलने से बनता है।

इसके साथ श्वेत रक्त कणिकाएं (WBC)  बाहर आ जाती है।परंतु इसमें लाल रक्त कणिकाएं (RBC)  नहीं होती।
परंतु इसमें रुधिर के समान ही सामान लसीका कणिकाएं (lymphocytes)  तथा सूक्ष्म मात्रा में कैल्शियम ,फास्फोरस के आयन पाए जाते हैं।

विभिन्न अंगों के ऊतकों के संपर्क में होने के कारण लसीका में ग्लूकोज, अमीनो अम्ल,वसीय अम्ल, विटामिन,लवण तथा उत्सर्जी पदार्थ (CO2 यूरिया) भी  इसमें पहुंच जाते हैं।

ये भी पढ़ें-  रेखित,अरेखित तथा हृदयी(कार्डियक) पेशियां- अंतर,कार्य,स्थान

लसीका का कार्य | work of lymph

(1) लसीका का प्रमुख कार्य यह है कि लसीका ऊतकीय द्रव एवं उन पदार्थों को रुधिर तंत्र में वापस लाती है जो धमनी केसिका से विसरित हो जाते हैं।

(2) लसीका केशिका के मध्य भोज्य पदार्थ, गैस, हार्मोन के प्रसारण के माध्यम का कार्य करती है।

(3) लसीका  घाव भरने में सहायक होती है।

(4) लसीका तंत्र रुधिर परिसंचरण तंत्र का ही एक भाग है।



रुधिर और लसीका में अंतर difference between blood and lymph-

क्र० सं०रुधिरलसीका
1रुधिर सामान्य तरल संयोजी ऊतक है।लसीका छना हुआ रुधिर है।
2 यह गहरे लाल रंग का तरल ऊतक है। यह रंगहीन तरल ऊतक है।
3RBC उपस्थित होती है।RBC अनुपस्थित होती है।
4WBC उपस्थित होती है परंतु कम मात्रा में। WBC अधिक मात्रा में पाई जाती है।
5 प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है। प्रोटीन कम मात्रा में पाई जाती है।
6न्यूट्रोफिल की संख्या बहुत अधिक होती है।लिम्फोसाइट्स की संख्या बहुत अधिक होती है।
7 रुधिर में ऑक्सिजन व अन्य पोषक पदार्थ अधिक होते हैं। लसीका में ऑक्सीजन व अन्य पोषक पदार्थ कम मात्रा में पाए जाते हैं।
8 रुधिर में कार्बन डाइऑक्साइड तथा उत्सर्जी पदार्थों की मात्रा सामान्य होती है।लसीका में कार्बन डाई ऑक्साइड उत्सर्जित पदार्थ अधिक मात्रा में पाए जाते हैं।

महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न – 1 – प्लाज्मा का रंग क्या होता है ?

उत्तर – पीला

प्रश्न – 2 – रुधिर का निर्माण किससे होता है ?

उत्तर – लाल रुधिर कणिकाएं, श्वेत रुधिर कणिकाएं, प्लाज्मा,प्लेटलेट्स

प्रश्न – 3 – रुधिर में कितने प्रतिशत रुधिर कणिकाएं होती है ?

उत्तर – 40 से 45%

प्रश्न – 4 – लाल रुधिर कणिकाओं में कौन सा प्रोटीन पाया जाता है ?

उत्तर – लौह प्रोटीन जिसे होमोग्लोबिन कहा जाता है।

दोस्तों आपको यह आर्टिकल पढ़कर कैसा लगा हमें कमेंट में जरूर बताइए तथा यह भी बताइए आपको इस आर्टिकल के द्वारा दी गई समस्त जानकारी कैसी लगी तथा आप संतुष्ट हैं या नहीं।


उपयोगी लिंक

संवेग और मैकडूगल की 14 मूल प्रवृत्तियां पढ़िये



Tags- रुधिर और लसीका में अंतर लिखिए, रक्त और लसीका में अंतर, रुधिर क्या है,लसीका क्या है, लसीका का कार्य,प्लाज्मा क्या है, प्लाज्मा में कौन-कौन से पदार्थ पाए जाते हैं, रक्त के भाग, रुधिर का PH मान क्या होता है, रुधिर का PH मान कितना होता है, ब्लड ग्रुप की खोज किसने की,रुधिर की खोज किसने की, रक्त की खोज किसने की, रुधिर परिसंचरण की खोज किसने की,ब्लड सर्कुलेटरी सिस्टम की खोज किसने की, लसीका और रुधिर में अंतर, लसीका और रक्त में क्या अंतर है, difference between blood and lymph,rudhir aur laseeka me antar,rakt aur laseeka me antar,

Leave a Comment