स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग

आज का युग कम्प्यूटर का युग है। आज के जीवन मे सभी को कम्प्यूटर की बेसिक जानकारी होनी चाहिए। बहुत सी प्रतियोगी परीक्षाओं में भी कम्प्यूटर से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इसीलिए हमारी साइट hindiamrit.com कम्प्यूटर से जुड़ी समस्त महत्वपूर्ण टॉपिक की श्रृंखला पेश करती है,जो आपके लिए अति महत्वपूर्ण साबित होगी,ऐसी हमारी आशा है। अतः आज का हमारा टॉपिक स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग की जानकारी प्रदान करना है।

स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग

स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग
स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग

(Start Menu) स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग

Tags – start menu items,स्टार्ट मेनू का उपयोग,6 start menu items,स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग

Start Menu

माउस पॉइण्टर को Start Button पर ले जाकर Left Click करने से Start Menu Display होगा। बिना किसी बटन को Press किये slowly mouse pointer को menu के सभी items पर move करके देखने पर आप देखेंगे कि प्रत्येक item highlight होगा, साथ ही tooltips होगा जो कि mouse के move करने पर ही दिखेगा। कुछ items पर Arrowhead होगा वह दर्शाता है कि वहाँ secondary Menu Available है। Secondary Menu से Mouse move करते हुए original menu पर अभ्यास करना चाहिए।

वे items जो बिना Arrowhead के हैं Command’s कहलाते हैं ये या तो action perform करते हैं या Start Application Follow करते हैं। Start Menu से प्राप्त होने वाले विभिन्न Options इस प्रकार होते हैं-

NOStaskDescription
1All Programmeवे सभी Program की List display करता है  जिन्हें User Start/Use कर सकता है।
2My DocumentsHard drive पर सभी प्रकार के documents की List display करता है।
3My Recent DocumentsUser द्वारा तुरन्त (Recently) Use किए documents की List display करता है।
4My PictureComptuer में feeded pictures/photos of
list display करता है।
5My MusicComputer #feeded music/songs ont list
display करता है।
6Control PannalComputer में hardware, software windows XP settings oil information होती है।
7Printers & FaxesCurrencly install the at Printer, Faxes को display करता है।
8Help & Supportयह Window XP run करने के सम्बन्ध में,Window से कोई task perform करने में Help करता है। XP से सम्बन्धित कोई भी प्रश्न शंका को हल करने में सहायता करता है।
9Searchकम्प्यूटर में स्थित सभी Files, Programms को display करता है।

स्टार्ट मेन्यू के उपयोग द्वारा डाक्यूमेंट की जानकारी करना

Start button पर click करने से प्राप्त Menu पर Documents option available होता है जिससे My documents, pictures, all documents प्राप्त होते हैं।

ये भी पढ़ें-  [ NCF 2005 ] राष्ट्रीय पाठ्यक्रम संरचना 2005 के उद्देश्य,आवश्यकता, महत्व,सिद्धांत, समस्याएं / NCF 2005 के उद्देश्य,आवश्यकता,महत्व,सिद्धांत, समस्याएं

स्टार्ट मेन्यू का प्रयोग करते हुए प्रिन्टर्स व फैक्स की जानकारी करना

Start Menu पर Click करने से प्राप्त Menu में Setting option choose कर Click करने से जिसमें control panel, Network Connections, Printers & faxes,Task bar & Menu bar के options होते हैं।

Control panel-Computer functions, appearance, computer programmes को add करना या remove करना control pannel के through होता है।

Printers & Faxes Network 21 Local printer, fax printers Add, remove 7 configure करता है।

स्टार्ट मेन्यू का प्रयोग करते हुए सर्च करना
(To Know about Search Using Start Menu)

Start button पर click करके Menu में Search पर Mouse move करते ही Submenu open होता है जिससे options open होत हैं। For files or folders, using microsoft Outlook, people Dialog box Questions through pictures Music, documents files, folders इत्यादि Search किये जा सकते हैं।

डिस्क ड्राइव एवं फोल्डर का प्रयोग करना (Use of Disk Drive & Folder)

My Computer Window पर double  Click करने से particular drive open होते हैं। या तो Drive पर double click करके उस  drive पर available documents देखे जा सकते हैं या Single Right Click से
प्राप्त होने वाले Submerged से open किये जा सकते हैं। इस Sub Menu से विभिन्न संक्रियाएँ की जा सकती हैं। किसी भी समय पूर्व Window पर जाने के लिए Tool Bar पर available चिन्ह का प्रयोग किया जा सकता है।

प्राय: कम्प्यूटर में Local Disk (C:), Local Disk (D:), E : (CD), G : (Pen drive) Show करता है जिसमें CD, Pen drive तभी Show करता है जब में Computer ये Use में हो।

My Computer में Tool bar पर Folder option पर click करने से Screen के left panel में सभी folders जो system पर available हैं Show हो जाते हैं और particular folder पर left click से contents/files/programs open किये जा सकते हैं।

स्टार्ट मैन्यू का उपयोग करना



* स्टार्ट बटन पर क्लिक करने से स्टार्ट मैन्यू खुल जाता है।
सब मैन्यू को खोलने के लिए उसके नाम के आगे त्रिभुज का निशान हो ऐसी किसी भी मैन्यू आइटम पर माउस प्वांइटर को क्लिक करने से सब मैन्यू स्वतः ही खुल जाता है। किसी आइटम को सलेक्ट करने के लिए इच्छित आइटम पर क्लिक करना होता है।

स्टार्ट मैन्यू आइटम्स

स्टार्ट मैन्यू पर निम्नलिखित आइटम प्राप्त होते हैं-

प्रोग्राम्स—इसमें एप्लीकेशन के शार्टकट्स, एप्लीकेशन के सब-फोल्डर्स; जैसे- ऐसेसरीज फोल्डर इत्यादि डिस्प्ले होते हैं।

फेवरेट्स- इसमें उन वेब साइटों के शॉर्ट- कट्स या लिंक्स होती हैं जिन्हें फेवरेट फोल्डर में जोड़ा जाता है।

ये भी पढ़ें-  शिक्षण एवं प्रशिक्षण में अन्तर | अनुदेशन एवं शिक्षण में अन्तर | शैक्षिक एवं शिक्षण उद्देश्य में अन्तर

सेटिंग्स – इसमें कण्ट्रोल पेनल फोल्डर,प्रिन्टर्स फोल्डर, टॉस्क बार
एवं स्टार्ट मैन्यू प्रोपर्टीज डॉयलॉग बॉक्स, फोल्डर ऑप्शंस, एक्टिव डेस्कटॉप ऑप्शंस एवं विंडोज अपडेट इत्यादि के शार्टकट्स होते हैं।

फाइण्ड—इसमें फाइलों, फोल्डरों, कम्प्यूटरों, इण्टरनेट साइट्स इत्यादि को खोज सकते हैं।

हेल्प-यह विण्डोज के लिए ऑनलाइन हेल्प सिस्टम चालू करता है। रन यह एक डायलॉग बॉक्स खोलता है जिसमें कमाण्ड टाइप कर प्रोग्राम्स, फोल्डर्स या वेब साइट्स खोल सकते हैं।

लॉग ऑफ यूजर नेम-इसमें सभी प्रोग्राम क्लोज हो जाते हैं और एक भिन्न यूजर के रूप में लाग ऑन हो जाते हैं।

शटटाउन—इससे स्टेण्डबाय, शटडाउन एवं रिस्टार्ट विद एम. एस. डॉस ऑप्शन प्राप्त होते हैं एवं इसकी सहायता से डॉस मोड में भी रिस्टार्टिंग कर सकते हैं।

विण्डो कन्ट्रोल्स (Windows Controls)

विण्डो कन्ट्रोल, ऐसे ग्राफिक्स एलीमेन्ट्स (जैसे कि विण्डोज बॉडर्स, टाइटिल बार्स एवं क्लोज बटन्स) होते हैं जिनका उपयोग फोल्डर्स और एप्लीकेशन विण्डो साइज और स्थान को नियन्त्रित करने के लिए किया जाता है। विण्डो कन्ट्रोल्स का उपयोग माउस द्वारा क्लिक कर अथवा ड्रेग करते हुए कर सकते हैं। क्लोज बटन विण्डो को क्लोज करने के लिए इस पर क्लिक करते हैं।
मेक्सिमाइज बटन विण्डो को बड़ा कर फुल स्क्रीन प्राप्त करने के लिए इस पर क्लिक करते हैं।

मिनीमाइज बटन—विण्डो को मिनीमाइज कर टास्क बार बटन के रूप में लाने के लिए इस बटन पर क्लिक करते हैं। डॉक्यूमेन्ट विण्डोज के साथ कार्य करते हुए एप्लीकेशन विण्डो पर ही एक बटन के रूप में करने के लिए इसे क्लिक करते हैं।

रिस्टोर बटन—एक मैक्सीमाइज्ड विण्डो को छोटा कर इसे उसके पुराने आकार में लाने के लिए इस पर क्लिक करते हैं।

साइजिंग पॉइंटर—माउस पॉइंटर को विण्डो के बॉर्डर या कोने में रख देने से यह साइजिंग पॉइंटर में बदल जाता है। बॉर्डर को ड्रेग करते हुए विण्डो को आवश्यकतानुसार  आकार दे सकते हैं।

सिस्टम मैन्यू बटन्स–विण्डो को कण्ट्रोल करने वाले कमाण्ड (रिस्टोर, मिनीमाइज एवं क्लोज) मैन्यू को खोलने के लिए इस पर क्लिक करते हैं।

टाक्स बार—जो विण्डो दिखाई नहीं पड़ रहे हैं उन्हें सलेक्ट करने के लिए या मिनीमाइज की हुई विण्डो को खोलने के लिए इस टास्क बार में दिये गये बटनों पर क्लिक करते हैं।

टाइटिल बार—विण्डो को मूव करने के लिए विण्डो को मेक्सिमाइज/रिस्टोर करने के लिए इस पर डबल क्लिक करते हैं। विण्डो बॉर्डर या कॉर्नर विण्डो की साइज बदलने के लिए इसका प्रयोग करते स्टार्ट बटन कम्प्यूटर चालू करते ही, डेस्क टॉप स्क्रीन पर आ जायेगी। स्टार्ट मैन्यू का प्रयोग कर प्रोग्राम फाइल्स तथा अन्य कम्प्यूटर सेटिंग्स तक पहुँच सकते हैं।

1. स्टार्ट बटन पर क्लिक करने पर स्टार्ट मैन्यू डिस्प्ले हो जाता है।
यहाँ इसके बायीं ओर के आइटम प्रयुक्त प्रोग्राम शुरू करते हैं।
यहाँ दाहिनी ओर के ऊपर वाले आइटम प्रयुक्त लोकेशनों तक ले जाते हैं।
नीचे के आइटमों द्वारा कम्प्यूटर की सेटिंग बदल सकते हैं, सहायता प्राप्त कर सकते हैं, सूचना ढूँढ सकते हैं और प्रोग्राम रन कर सकते हैं। बायीं ओर के निचले आइटमों द्वारा हाल में प्रयुक्त हुए प्रोगामों को स्टार्ट कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें-  इंटरनेट की शुरुआत / इंटरनेट की सेवाएं / services of internet in hindi

2. All Programs बटन पर क्लिक कर प्रोग्राम्स का मैन्यू खोल सकते हैं इससे यूज्ड प्रोग्रामों की लिस्ट कम्प्यूटर पर आती है।
एक मैन्यू आइटम जिसमें एक side arrow होगा, एक दूसरा मैन्यू दिखायेगा।

3. एक और मैन्यू देखने के लिए माउस प्वाइंटर को साइड एरो के साथ मैन्यू आइटम पर रखने से एक दूसरा मैन्यू आ जायेगा।

4. मैन्यू आइटम के साइड ऐरो पर माउस प्वांइटर को रखकर प्रयोग किए जाने वाला मैन्यू प्राप्त कर सकते हैं।

5. उस आइटम पर क्लिक करते हैं जिसे प्रदर्शित करना है।
स्टार्ट मैन्यू को बिना किसी आइटम को चुनने के बाद बंद करने के लिए मैन्यू एरिया के बाहर क्लिक करते हैं। इसमें Notepad विण्डो प्रदर्शित होती है।

स्टार्ट मैन्यू के उपयोग / uses of start menu in hindi

1.पूर्व में उपयोग में लाये गये डॉक्यूमेन्ट्स की लिस्ट में से किसी डॉक्यूमेन्ट को खोलने में। इसके लिए

(i) टास्कबार की स्टार्ट बटन पर क्लिक करते हैं।
(ii) खुलने वाले स्टार्ट मैन्यू में डॉक्यूमेन्ट्स को पॉइंट करते हैं।
(iii) खुलने वाले सबमैन्यू में इच्छित डॉक्यूमेन्ट पर क्लिक करते हैं।

2. प्रिण्टर आइकन या शॉर्टकट पर डॉक्यूमेन्ट आइकन को ड्रेग करते हुए  डॉक्यूमेन्ट को प्रिन्ट करने में। इसके लिए

(i) यदि आवश्यक हो तो प्रिन्टर फोल्डर को ओपन करते हैं।
(ii) प्रिन्टर या इसके शार्टकट आइकन पर डॉक्यूमेन्ट आइकनको ड्रेग करते हैं।
(iii) डॉक्यूमेंट जिस एप्लीकेशन पर बना है वह खुल जायेगा और डॉक्यूमेंट प्रिन्ट हो जायेगा।

3. एप्लीकेशनों को रिमूव या हटाने में यहाँ आप केवल विण्डोज XP में उपयोग के लिए बनाये गये एप्लीकेशनों को हटा सकते हैं।

(i) स्टार्ट मैन्यू पर क्लिक करते हैं।

(ii) सेटिंग्स को पॉइंट करते हैं फिर प्रदर्शित होने वाले मैन्यू में कण्ट्रोल पेनल पर क्लिक करते हैं। इससे कण्ट्रोल पेनल विण्डज खुल जायेगी।

(iii) एड/रिमूव प्रोग्राम्स आइकन पर क्लिक या डबल क्लिक करते हैं। एड/रिमूव प्रोग्राम्स प्रापर्टीज डायलॉग बॉक्स दिखने लगता है।

(iv) लिस्ट में से हटाने के लिए इच्छित एप्लीकेशन को सलेक्ट करते हैं।

(v) एड/रिमूव बटन पर क्लिक करते हैं।

(vi) डिप्स्ले होने वाली सूचना का पालन करते हैं।

4. एप्लीकेशन्स को रन कराने या चलाने में स्टार्ट मैन्यू का उपयोग करते किसी एप्लीकेशन को चलाना-

(1) विण्डोज के टास्कबार पर स्टार्ट बटन को क्लिक करते हैं।
(ii) प्रदर्शित होने वाले स्टार्ट मैन्यू में प्रोग्राम्स को पॉइंट करते हैं।
(iii) आवश्यक हो तो, रन किये जाने वाले एप्लीकेशन को रखने वाले फोल्डर को पॉइंट करते हैं।
(iv) रन किये जाने वाले प्रोग्राम के नाम पर क्लिक करते हैं।

5. रन कमाण्ड का उपयोग करके एप्लीकेशनों को रन कराने में–

(i) विण्डोज टास्कबार में स्टार्ट बटन पर क्लिक करते हैं।
(ii) खुलने वाले मेन्यू में रन पर क्लिक करते हैं।
(iii) ओपन बॉक्स में एप्लीकेशन के नाम को सलेक्ट करते हैं या टाइप करते हैं।
(iv) ओ. के. पर क्लिक करते हैं।
(v) हार्ड डिस्क स्पेस को देखने में स्टार्ट मैन्यू का उपयोग किया जाता है।
(vi) एक प्रोग्राम को इंस्टॉल करने के लिए।
(vii) किसी प्रोग्राम को हटाने के लिए।
(viii) हार्ड डिस्क का कीफ्रेगमेंट करने में।
(ix) डिस्क क्लीनअप करने में।
(x) सिस्टम रीस्टोर करने में।
(xi) कम्प्यूटर की आवाज कम या ज्यादा करने में।
(xii) पेन्ट के साथ काम करने के लिए।
(xiii) विण्डोज पर गेम खेलने के लिए।
(xiv) कैल्कुलेटर के साथ काम करने के लिए।

आपके लिए अन्य विषय की सम्पूर्ण श्रृंखला

टेट / सुपरटेट सम्पूर्ण हिंदी कोर्स

50 मुख्य टॉपिक पर  निबंध पढ़िए

                          ◆◆ निवेदन ◆◆

हमें आशा है कि आज के इस आर्टिकल में अपने जरूर कुछ नया सीखा होगा। आप इस टॉपिक स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग को अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें। आपको यह आर्टिकल पढ़कर कैसा लगा इसकी जानकारी हमे कॉमेंट करके जरूर बताएं। आपका एक कॉमेंट हमारे लिए उपयोगी एवं प्रेरणादायक सिद्ध होगा।

Tags – start menu items,स्टार्ट मेनू का उपयोग,6 start menu items,स्टार्ट मेन्यू के आइटम्स / स्टार्ट मेन्यू के उपयोग

Leave a Comment