रेखित,अरेखित तथा हृदयी(कार्डियक) पेशियां- अंतर,कार्य,स्थान

दोस्तों विज्ञान विषय में जीव विज्ञान के अंतर्गत हमें पेशी तंत्र पढ़ने को मिलता है।जिसमें हमे रेखित,अरेखित तथा हृदयी(कार्डियक) पेशियां-कार्य,स्थान,अंतर | पेशियों के प्रकार,रेखित पेशी, अरेखित पेशी, तथा हृदीय पेशी आदि के कार्य,ये कहाँ पाई जाती है इनमें क्या अंतर है आदि पड़ने को मिलता है।
तो आज hindiamrit.com  आपको इसके बारे में भी जानकारी प्रदान करेगी।

ऐच्छिक तथा अनैच्छिक पेशीयों में अंतर,ऐच्छिक पेशी in english,अनैच्छिक पेशी in english,रेखित पेशी in english,अनैच्छिक पेशी,ऐच्छिक पेशी,रेखित पेशी के कार्य,हृदय पेशी का चित्र,हृदय पेशी के कार्य,पेशी तंत्र इन हिंदी,रेखित पेशी के बारे में,पेशीय ऊतक कितने प्रकार के होते है,मांसपेशियों के कार्यों का वर्णन,रेखित तथा अरेखित पेशी में अंतर,रेखित अरेखित तथा हृद पेशी में अंतर,पेशियों के प्रकार,types of muscles,
अनैच्छिक पेशी,ऐच्छिक पेशी,हृद पेशी का चित्र,हृदय पेशी के कार्य,पेशी तंत्र इन हिंदी,रेखित पेशी के बारे में,पेशीय ऊतक कितने प्रकार के होते है,रेखित तथा अरेखित पेशी में अंतर,रेखित अरेखित तथा हृद पेशी में अंतर,पेशियों के प्रकार,types of muscles,ऐच्छिक तथा अनैच्छिक पेशीयों में अंतर,ऐच्छिक पेशी in english,अनैच्छिक पेशी in english,

Contents

पेशियां क्या है | what is muscles

हमारे शरीर में अस्थि तंत्र तथा बाह्य त्वचा के बीच का अधिकांश भाग मांसपेशियों (muscles) से निर्मित होता है।

पेशियां पेशी कोशिकाओं द्वारा निर्मित होती हैं।
यह एक संकुचनशील ऊतक है।

मनुष्य में कुल 639 पेशियां पाई जाती हैं जिसमें सर्वाधिक पेशियां पीठ पर पाई जाती है। जिनकी संख्या 180 होती है।

पेशियों के प्रकार | types of muscles

यह तीन प्रकार की होती हैं-

(1) रेखित पेशियां (striated muscles)

(2) अरेखित पेशियां (Unstriated muscles)-

(3) हृदयी पेशियां (Cardiac muscles)

(1) रेखित पेशियां /ऐच्छिक पेशियां (striated muscles)-

शरीर के अधिकांश पेशियां रेखीय होती हैं। यह मुख्य रूप से अग्रपाद,पश्चपाद तथा पीठ पर पाई जाती है।

शरीर में 400 रेखीय पेशियां पाई जाती हैं। यह प्रायः तंत्रिका तंत्र के चेतन नियंत्रण में मनुष्य की इच्छा अनुसार कार्य करती हैं।अतः इन्हें ऐच्छिक पेशियां (voluntary muscles) कहते हैं।

यह पेशियां अस्थियों से जुड़ी होती हैं अतः इनको कंकालीय पेशियां (skeleton muscles ) भी कहते है। इन पेशियों में थकान होती है।

इनको भी पढ़िए

g तथा G में अंतर

रुधिर और लसीका में अंतर

द्रव्यमान और भार में अंतर

(2) अरेखित पेशियां /अनैच्छिक पेशियां(Unstriated muscles)-

यह पेशियां आहार नाल,मूत्राशय, पित्ताशय,श्वासनाओं, गर्भाशय, योनि, जनन एवं रुधिर वाहिनियों आदि की दीवारों तथा शिश्न, प्लीहा, नेत्रों, त्वचा की डर्मिस आदि में होती हैं।

ये भी पढ़ें-  साबुन और डिटर्जेंट में अंतर || difference between soap and detergent

इनका अस्थियों से कोई संबंध नहीं होता अर्थात ये अनैच्छिक पेशियां (involuntory muscles) होती हैं। अनैच्छिक होने के कारण इनमें थकान नहीं होता है।

Types of muscles,ऐच्छिक पेशी in english,अनैच्छिक पेशी in english,रेखित पेशी in english,अनैच्छिक पेशी,ऐच्छिक पेशी,रेखित पेशी के कार्य,हृदय पेशी का चित्र,हृदय पेशी के कार्य,पेशी तंत्र इन हिंदी,रेखित पेशी के बारे में,पेशीय ऊतक कितने प्रकार के होते है,मांसपेशियों के कार्यों का वर्णन,रेखित तथा अरेखित पेशी में अंतर,रेखित अरेखित तथा हृद पेशी में अंतर,पेशियों के प्रकार,ऐच्छिक तथा अनैच्छिक पेशीयों में अंतर,

(3) हृदयी पेशियां (Cardiac muscles)-

ये पेशियां केवल हृदय की मांसल भित्तियों में पाई जाती हैं। और शाखान्वित होती है। यह शाखाएं आपस में मिलकर एक जाल का निर्माण करती हैं।

इन पेशियों में रेखित व अरेखित पेशियों के गुण पाए जाते हैं।
यह पेशियां अनैच्छिक एवं कभी ना थकने वाली होती है।

ये जन्म से मृत्यु तक निरंतर कार्य करती हैं।

हमारे चैनल को सब्सक्राइब करके हमसे जुड़िये और पढ़िये नीचे दी गयी लिंक को टच करके विजिट कीजिये ।

https://www.youtube.com/channel/UCybBX_v6s9-o8-3CItfA7Vg

रेखित,अरेखित तथा हृद पेशियों में अंतर | difference between striated,unstriated and cardiac muscles

क्र०सं०रेखित पेशियां (striated muscles)अरेखित पेशियां (Unstriated muscles)हृदयी पेशियां (Cardiac muscles)
1अस्थियों के साथ जुड़ी रहती हैं।ये आंतरांगो में पाई जाती है।हृदय में पाई जाती है।
2ये ऐच्छिक पेशियां हैं।यह अनैच्छिक पेशियों हैं यह अनैच्छिक पेशियां है।
3इनके पेशीय तंतु लंबे व बेलनाकार होते हैं। इसके पेशीय तंतु लंबे व तर्कवाकार होते है।इनके तंतु लंबे,बेलनाकार व शाखान्वित होते है।
4 प्रत्येक पेशी तंतु में अनेके केंद्रक पाए जाते हैं।केवल एक केन्द्रक पाया जाता है।इसमे एक केन्द्रक पाया जाता है।
5इनमें धारियां पाई जाती है।इसमे धारियां नही पाई जाती है।इसमे धारिया उपस्थित होती है।
6 थकान महसूस करती हैं।महसूस नही करती है।ये भी महसूस नही करती है।

ऐच्छिक तथा अनैच्छिक पेशियों में अंतर

क्र०सं०ऐच्छिक पेशियांअनैच्छिक पेशियां
1इन पेशियों में अनेक केंद्रक पाए जाते हैं। इन पेशियों में केवल एक केंद्रक पाया जाता है।
2यह थकान महसूस करती हैं । यह थकान महसूस नहीं करती हैं।
3इसमें धारियां पाई जाती हैं। धारियां नहीं पाई जाती हैं।
4यह पेशियां लंबी व बेलना कार होती हैं।यह पेशियां लंबी व तर्कवाकार होती हैं।
5यह पेशियां शाखान्वित नही होती है। पेशियां शाखान्वित होती है।

दोस्तों आपको यह आर्टिकल पढ़कर कैसा लगा हमे कमेंट करके बताये तथा सबके साथ शेयर जरूर करे।

ये भी पढ़ें-  संघ पोरीफेरा : सामान्य लक्षण एवं इसके प्रमुख जंतु / information of porifera phylum in hindi

महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न – 1 – हृद पेशियां कहा पाई जाती है ?

उत्तर – हृदय में ।

प्रश्न – 2 – कौन सी पेशियां कभी नही थकती है ?

उत्तर – अरेखित और हृद पेशी

प्रश्न – 3 – कौन सी पेशी थकावट महसूस करती है ?

उत्तर – रेखित पेशी

प्रश्न – 4 – किन पेशियों में धारियां पाई जाती है ?

उत्तर – ऐच्छिक पेशी

tags- ऐच्छिक पेशी in english,अनैच्छिक पेशी in english,रेखित पेशी in english,अनैच्छिक पेशी,ऐच्छिक पेशी,रेखित पेशी के कार्य,हृदय पेशी का चित्र,हृदय पेशी के कार्य,पेशी तंत्र इन हिंदी,रेखित पेशी के बारे में,पेशीय ऊतक कितने प्रकार के होते है,मांसपेशियों के कार्यों का वर्णन,रेखित तथा अरेखित पेशी में अंतर,रेखित अरेखित तथा हृद पेशी में अंतर,पेशियों के प्रकार,types of muscles,रेखित,अरेखित तथा हृदयी(कार्डियक) पेशियां-कार्य,स्थान,अंतर,ऐच्छिक तथा अनैच्छिक पेशीयों में अंतर,

Leave a Comment