SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम / S.O.P.T. कार्यक्रम

बीटीसी एवं सुपरटेट की परीक्षा में शामिल शिक्षण कौशल के विषय प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास में सम्मिलित चैप्टर SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम / S.O.P.T. कार्यक्रम आज हमारी वेबसाइट hindiamrit.com का टॉपिक हैं।

SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम / S.O.P.T. कार्यक्रम

SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम / S.O.P.T. कार्यक्रम
SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / S.O.P.T. कार्यक्रम

प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम / SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / S.O.P.T. कार्यक्रम

Tags  – SOPT के उद्देश्य एवं कार्य,प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम,S.O.P.T. कार्यक्रम,SOPT के कार्य,प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम क्या है,S.O.P.T. कार्यक्रम,प्राथमिक शिक्षा का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम की प्रशिक्षण सामग्री,

प्राथमिक अध्यापकों का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम
Special Officiate Programme for Primary Teachers (S.O.P.T.)

भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मन्त्रालय के अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालयों के अध्यापकों के विशेष अनुस्थापन हेतु चलायी जा रही प्रायोजित योजना को S.O.P.T. के नाम से जाना जाता है। N.C.E.R.T. कोशैक्षणिक संसाधन उपलब्ध कराने के अतिरिक्त इस योजना के क्रियान्वयन, संगठन, प्रबन्ध तथा अनुरीक्षण का उत्तरदायित्त्व सौंपा गया है।

इस समय N.C.E.R. T. का अध्यापक शिक्षा एवं विशेष शिक्षा विभाग अपने अन्य सम्बन्धित विभागों; जैसे-विद्यालय पूर्व एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग, केन्द्रीय शैक्षिक प्रौद्योगिकी संस्थान,क्षेत्रीय शिक्षा महाविद्यालयों अजमेर, भोपाल, भुवनेश्वर तथा मैसूर एवं अन्य क्षेत्रीय सलाहकारोंके सहयोग से इस कार्यक्रम का संयोजन किया गया है। लगभग सम्पूर्ण क्षेत्र के सम्पूर्ण कार्यक्रम एवं विकसित पैमाने पर प्रतिवर्ष 4.5 लाख प्राथमिक अध्यापकों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य लेकर वर्ष 1993-94 से प्रारम्भ किया गया।

ये भी पढ़ें-  वाच्य की परिभाषा और प्रकार | वाच्य परिवर्तन | vachya in hindi

प्राथमिक शिक्षा का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम के उद्देश्य | SOPT के उद्देश्य

इसके निम्नलिखित उद्देश्य हैं-

(1) NCERT, सन् 1991 की राष्ट्रीय रिपोर्ट में वर्णित न्यूनतम अधिगम स्तर की दक्षताओं पर बल देना। (2) ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड के अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालयों में दी जाने वाली सामग्री का समुचित उपयोग करनेकीदक्षता का विकास करना।(3) अध्यापकों को विद्यार्थी/शिक्षार्थी
केन्द्रित अधिगम अपनाने के लिये प्रोत्साहित करना। (4) कौशल तथा क्रियाकलाप केन्द्रित शिक्षण एवं अधिगम प्रक्रिया में प्रशिक्षण प्रक्रिया को प्रोत्साहित करना।

प्राथमिक शिक्षा का विशेष अनुस्थापन कार्यक्रम की प्रशिक्षण सामग्री

NCERT के विशेषज्ञों द्वारा एक स्वाध्याय आधारित पैकेज तैयार किया गया है। जिसमें विशेष रूप से प्राथमिक स्तर के पाठ सम्मिलित हैं। इसमें से कुछ मॉड्यूल राष्ट्रीय शिक्षा नीति (संशोधित 1992) तथा प्रोग्राम इनसे जुड़े मुद्दों की व्याख्या करते हैं। इसका मुख्य लक्ष्य प्राथमिक कार्यक्रम की गुणवत्ता में सुधार लाना है। निम्नलिखित मॉडयूल्स इन प्रासंगिक विषयों की चर्चा करते हैं-

(1) ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड परियोजना। (2) न्यूनतम अधिगम स्तर संकल्पना एवं प्राथमिक विद्यालय के अध्यापकों की भूमिका । (3) प्राथमिक स्तर पर व्यापक और सतत् मूल्यांकन । (4) बच्चों में विद्यालय तत्परता का विकास, मार्गदर्शक सिद्धान्त और क्रियाकलाप। (5) प्रभावी शिक्षण अधिगम के लिये विद्यालयों में वातावरण निर्माण । (6) विशेष समूहों की शिक्षा । (7) छात्राओं की शिक्षा में अध्यापकों की भूमिका। (8) मूल्यों की शिक्षा । (9) बहुश्रेणी शिक्षण।

प्रशिक्षण पैकेज में पाठ्यचर्या के विभिन्न क्षेत्रों पर आधारित निम्नलिखित मॉडयूल्स सम्मिलित हैं-

(1) भाषा शिक्षण (मातृभाषा एवं अंग्रेजी प्रथम भाषा के रूप में) (2) गणित शिक्षण-संकल्पनाएँ तथा युक्तियाँ (3) पर्यावरण अध्ययन शिक्षण-1-सामाजिक विज्ञान शिक्षण। (4) पर्यावरण अध्ययन शिक्षण-2-विज्ञान, संकल्पनाएँ एवं युक्तियाँ (5) कला
शिक्षण (6) स्वास्थ्य और शारीरिक शिक्षा (7) प्राथमिक स्तर पर कार्यानुभव की संकल्पना एवं क्रियाकलाप।


ये भी पढ़ें-  ध्यान या अवधान का अर्थ,परिभाषा,प्रकार,ध्यान को प्रभावित करने वाले कारक

आपके लिए महत्वपूर्ण लिंक

टेट / सुपरटेट सम्पूर्ण हिंदी कोर्स

टेट / सुपरटेट सम्पूर्ण बाल मनोविज्ञान कोर्स

50 मुख्य टॉपिक पर  निबंध पढ़िए

खुद को पॉजिटिव कैसे रखे ।

Final word

आपको यह टॉपिक कैसा लगा हमे कॉमेंट करके जरूर बताइए । और इस टॉपिक SOPT के उद्देश्य एवं कार्य / S.O.P.T. कार्यक्रम को अपने मित्रों के साथ शेयर भी कीजिये ।

Leave a Comment