व्यक्तित्व के प्रकार || types of personality

व्यक्तित्व के प्रकार || types of personality uptet, ctet, btc में यह टॉपिक सबसे महत्वपूर्ण है।

इसीलिए hindiamrit आज आपको इस टॉपिक से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेगा।

Contents

व्यक्तित्व के प्रकार || types of personality

दोस्तों व्यक्तित्व के प्रकार से पहले हमें यह जानना चाहिए कि व्यक्तित्व का अर्थ क्या है? व्यक्तित्व किसे कहते हैं? व्यक्तित्व का अर्थ स्वभाव या मुखौटा होता है। यह अंग्रेजी भाषा के शब्द पर्सनालिटी का हिंदी रूपांतरण है।

विभिन्न मनोवैज्ञानिकों ने व्यक्तित्व के अलग-अलग प्रकार बताए हैं।

(1) शरीर – रचना दृष्टिकोण के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार || क्रेचमर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

मनोवैज्ञानिक क्रेचमर ने व्यक्तित्व का विभाजन शरीर रचना के आधार पर किया है जो निम्न प्रकार से है-

(A) गोलकाय या नाटा (picnic)
(B) लम्बकाय (asthenic)
(C) सुडौलकाय (athletic)
(D) असाधारण या दुर्विकिसित (dysplastic)

(A) नाटा (picnic)

इस प्रकार के व्यक्ति साहसी,छोटे, पुष्ट और गोल आकृति के होते हैं।
यह व्यक्ति अधिक बात करने वाले तथा दयालु तथा सामाजिक संपर्क रखने वाले होते हैं।

ये भी पढ़ें-  स्किनर का क्रिया प्रसूत अनुबंधन सिद्धांत--Operant conditioning theory of skinner in hindi

(B) शक्तिहीन (asthenic)

इस प्रकार के व्यक्ति पतले चपटे,गोल ,कोमल शारीरिक गठन वाले लंबे अंग वाले, चपटे तथा तंग सीने वाले होते हैं।
यह व्यक्ति शर्मीले तथा अकेले रहने वाले होते हैं।

(C) खिलाड़ी (athletic)

इस प्रकार के व्यक्ति अच्छी मांसपेशी वाले होते हैं। इनके कंधे चौड़े, हाथ लंबे और पुष्ट अंगों वाले होते हैं।यह बहुत शर्मीले तथा अकेले रहने वाले तथा अधिक संवेदनशील होते हैं।

(D) दुर्विकिसित / असाधारण (dysplastic)

यह व्यक्ति अनुचित शारीरिक अनुपात वाले तथा विशेष शारीरिक गठन वाले होते हैं। इस प्रकार के व्यक्तित्व के व्यक्तियों में शारीरिक विकास की अनेक समानताएं भी पाई जाती है।

(2) शारीरिक गुणों के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार || शेल्डन के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

मनोवैज्ञानिक शेल्डन ने व्यक्तित्व के प्रकार का आधार शारीरिक गुणों को माना है। इस आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार निम्न हैं–

(A) गोलकाय (andomorphic)
(B) मध्यकाय (mesomorphic)
(C) लम्बकाय (ectomorphic)

(A) गोलकाय (andomorphic)

इस प्रकार के शारीरिक गठन वाले व्यक्ति गोल मटोल तथा नरम होते हैं। ऐसे व्यक्ति आराम पसंद, भावुक तथा सुख चाहने वाले होते हैं।

(B) मध्यकाय (mesomorphic)

ऐसे व्यक्ति कटीले तथा मजबूत शरीर वाले होते हैं। यह व्यक्ति स्वभाव से क्रियाशील शक्तिशाली तथा आक्रामक एवं फुर्तीले स्वभाव के होते हैं। इनमें उपलब्धि का स्तर उच्च होता है।

(C) लम्बकाय (ectomorphic)

इस प्रकार के गठन वाले व्यक्ति दुबले-पतले तथा कमजोर शरीर वाले होते हैं। स्वभाव से संवेदनशील, नाजुक, बौद्धिक और पलायन वादी होते हैं।

व्यक्तित्व के प्रकार और विशेषता सिद्धांतों,व्यक्तित्व के प्रकार pdf,व्यक्तित्व के प्रकार सिद्धांत,व्यक्तित्व के प्रकार सिद्धान्त,व्यक्तित्व के प्रकार का वर्णन,व्यक्तित्व के प्रकार इन हिंदी,व्यक्तित्व परीक्षण के प्रकार,व्यक्तित्व विकार के प्रकार,व्यक्तित्व के प्रकार बताइए,शेल्डन के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,कैनन के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,व्यक्तित्व का प्रकार,व्यक्तित्व कितने प्रकार का होता है,व्यक्तित्व कितने प्रकार के होते हैं,व्यक्तित्व के विभिन्न प्रकार के बारे में बात,ग्रंथियों के आधार पर व्यक्तित्व के विभिन्न प्रकार,

(3) समाजशास्त्रीय दृष्टिकोण के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार || स्प्रिंगर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

स्प्रिंगर ने व्यक्तित्व को समाजशास्त्रीय दृष्टिकोण के आधार पर विभाजित किया है। इन्होंने अपनी पुस्तक types of man में व्यक्तित्व के प्रकार बताये है जो निम्न लिखित हैं-

(A) आर्थिक व्यक्तित्व ( economical personality)
(B) धार्मिक व्यक्तित्व ( religious personality)
(C) सामाजिक व्यक्तित्व ( socially personality)
(D) सैद्धांतिक व्यक्तित्व ( theoretical personality)
(E) राजनैतिक व्यक्तित्व ( political personality)
(F) कलात्मक व्यक्तित्व (esthetic personality)

ये भी पढ़ें-  वर्ण की परिभाषा | वर्ण के प्रकार | varn in hindi

(A) आर्थिक व्यक्तित्व ( economical personality)

इस व्यक्तित्व वाले व्यक्ति से तात्पर्य है कि इनके जीवन का आधार अर्थ अर्थात धन होता है। यह लोग अपने कार्य में विशेष महत्व धन को देते है। इनके सभी कार्य एवं गतिविधियाँ धन से जुड़ी होती है।

(B) धार्मिक व्यक्तित्व ( religious personality)

इन व्यक्तित्व वाले व्यक्ति से तात्पर्य है कि इनके जीवन का आधार धर्म होता है। यह लोग अपने कार्य में विशेष महत्त्व धर्म एवं संस्कृति को देते हैं। इनके सभी कार्य भी धर्म एवं संस्कृति से ही जुड़े होते हैं।

(C) सामाजिक व्यक्तित्व ( socially personality)

इस तरह के व्यक्तित्व वाले व्यक्ति समाज में रहते हैं। इनको सामाजिक कार्यों में रुचि होती है। जो समाज से जुड़ना पसंद करते हैं। तथा सामाजिक कार्यों में सहायता भी करते हैं। यह स्वयं को समाज का एक अंग भी मानते हैं इसलिए यह उसे कर्म समझकर निभाते हैं।

(D) सैद्धांतिक व्यक्तित्व ( theoretical personality)

ऐसे व्यक्तित्व वाले व्यक्ति अपने जीवन में बड़े नियम एवं सिद्धांत के साथ रहते हैं। इनके जीवन में समस्त जीवन शैली नियम एवं सिद्धांतों से ही चलती है। यह नियम एवं सिद्धांतों को ही प्रमुखता देते हैं।

(E) राजनैतिक व्यक्तित्व ( political personality)

इन व्यक्तित्व वाले व्यक्ति राजनीति के क्षेत्र में रुचि लेते हैं। यह लोग राजनीति के क्षेत्र में जाकर देश सेवा का भाव रखते हैं। यह लोग अपने कार्यों एवं जीवनशैली में भी राजनीति को एक अंग मानते हैं। इनके कार्य भी राजनीति से भी जुड़े होते हैं।

(F) कलात्मक व्यक्तित्व (esthetic personality)

यह व्यक्ति कला के क्षेत्र में अत्यधिक उत्कृष्ट होते हैं। कलात्मक व्यक्तित्व के व्यक्ति विभिन्न कला में निपुण होते हैं। यह मानते हैं की कला ही इनका जीवन है।

व्यक्तित्व का अर्थ ,व्यक्तित्व की परिभाषाएं ,व्यक्तित्व के प्रकार ,व्यक्तित्व की विशेषताएं, व्यक्तित्व विकास को प्रभावित करने वाले कारक, व्यक्तित्व परीक्षण, व्यक्तिगत विकास एवं शिक्षा ,समायोजन ,समायोजन के प्रकार,व्यक्तित्व का अर्थ एवं परिभाषा, व्यक्तित्व के प्रकार, व्यक्तित्व परीक्षण, व्यक्तित्व परीक्षण की विधियां, व्यक्तित्व मापन की विधियाँ, vyaktitva ka arth evam paribhasha, vyaktitva ke prakar, vyaktitva parikshan, Vykatitva Parikshan ki vidhiyan, Vyaktitva Mapan ki vidhiyan,व्यक्तित्व कितने प्रकार का होता है?,व्यक्तित्व से आप क्या समझते हैं?,बहिर्मुखी क्या है?,अंतर्मुखी व्यक्तित्व क्या है?,पर्सनालिटी इन साइकोलॉजी,व्यक्तित्व के प्रकार pdf,व्यक्तित्व के प्रकार और विशेषता सिद्धांतों,शेल्डन के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,क्रेशमर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,spranger के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,क्रेचमर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,व्यक्तित्व परीक्षण के प्रकार,विलियम जेम्स के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,युंग के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,न्यूमैन तथा स्टर्न के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,स्प्रिंगर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,शरीर रचना दृष्टिकोण के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,शारीरिक गुणों के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार,समाजशास्त्रीय गुणों के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार,मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,
Types of personality,व्यक्तित्व के प्रकार,

(4) विलियम जेम्स के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

(A) कोमल हृदय वाले (self minded)
(B) कठोर हृदय वाले (tough hearted)

(A) कोमल हृदय वाले (self minded)

इनका व्यवहार अमूर्त सिद्धांतों के द्वारा निर्देशित होता है। ऐसे व्यक्ति बुद्धिजीवी, आशावादी, आदर्शवादी,आर्थिक तथा पूर्वाग्राही होते हैं।

(B) कठोर हृदय वाले (tough hearted)

ऐसे व्यक्ति विचारों की अपेक्षा शारीरिक संवेदनाओ में अधिक रुचि रखते हैं। ऐसे व्यक्ति भौतिकवादी, निराशावादी, अधार्मिक तथा संशयवादी होते है।

(5) न्यूमैन तथा स्टर्न के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

(A) विश्लेषणात्मक व्यक्ति
(B) संश्लेषणात्मक व्यक्ति

ये भी पढ़ें-  अशुद्ध वाक्य को शुद्ध करना | वाक्य शुद्धि के नियम

(A) विश्लेषणात्मक व्यक्ति

यह व्यक्ति किसी बात के सूक्ष्म अध्ययन में बड़ी रुचि रखते हैं। यह प्रत्येक व्यक्ति वस्तु पर विश्लेषण करने की चेष्टा रखते हैं।

(B) संश्लेषणात्मक व्यक्ति

यह व्यक्ति समीक्षा करना प्रायः पसंद नहीं करते है। यह प्रत्येक व्यक्ति वस्तु पर संश्लेषण करने की चेष्टा रखते हैं।

(6) मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार || युंग के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

युंग ने व्यक्तित्व के प्रकार का आधार मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण माना है।
युंग के अनुसार व्यक्तित्व के निम्न प्रकार है-

(A) अंतर्मुखी (introvert personality)
(B) बहिर्मुखी (extrovert personality)
(C) उभयमुखी ( Ambirvert / double faced personality)

(A) अंतर्मुखी (introvert personality)

यह व्यक्ति चिंतनशील होते हैं। तथा आत्मकेंद्रित होते हैं। यह प्रतिक्रियावादी तथा कर्तव्य परायण होते हैं। यह कष्टों के प्रति सजग रहते हैं। इनको बाहरी जगत से कम अनुराग होता है। यह अकेले रहना पसंद करते हैं। ये लोग अपने विचार एवं बातों को दूसरों से नहीं बताते हैं।

(B) बहिर्मुखी (extrovert personality)

ऐसे व्यक्ति बाह्य जगत से अधिक रूचि लेते हैं। यह लोग अपने कार्यों एवं बातों को दूसरों के साथ बताना पसंद करते हैं। यह वातावरण के साथ शीघ्र ही ढल जाते हैं।

(C) उभयमुखी (double faced personality)

इन व्यक्तित्व वाले व्यक्तियों में अंतर्मुखी तथा बहिर्मुखी दोनों के गुण पाए जाते हैं। यह वातावरण के हिसाब से ही कभी अंतर्मुखी वाली विशेषताएं प्रकट करते हैं तो कभी बहिर्मुखी वाली प्रकट करते हैं।

(7) आधुनिक वर्गीकरण के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार

(A) भावुक व्यक्ति (emotional persons)
(B) कर्मशील व्यक्ति ( labourer person)
(C) विचारशील व्यक्ति (thinker persons)

(A) भावुक व्यक्ति (emotional persons)

यह व्यक्ति अत्यधिक भावुक होते हैं। यह आत्मचिंतन अधिक करते हैं। इनको दूसरों की भावना पीड़ा की अधिक चिंता रहती है।अतः इनकी क्रियाएं भावनाओं से संचालित होती है।

(B) कर्मशील व्यक्ति ( labourer person)

यह व्यक्ति कर्म को अपने जीवन का आधार मानते हैं। इनका मानना होता है कि कर्म ही जीवन है। हमको जो कुछ भी प्राप्त होगा वह कर्म से ही प्राप्त होगा। अतः जीवन में कर्म दूसरा पहलू है। यह व्यक्ति हर समय अपने को किसी न किसी रचनात्मक कार्य में लगाये रहते हैं।

(C) विचारशील व्यक्ति (thinker persons)

ऐसे व्यक्ति अधिक विचारवान होते हैं। इन व्यक्तियों में सृजनात्मकता अधिक पाई जाती है। यह लोग किसी कार्य को करने से पूर्व
भली-भांति सोच विचार करते हैं।

हमारे चैनल को सब्सक्राइब करके हमसे जुड़िये और पढ़िये नीचे दी गयी लिंक को टच करके विजिट कीजिये ।

https://www.youtube.com/channel/UCybBX_v6s9-o8-3CItfA7Vg

उपयोगी लिंक

व्यक्तित्व का अर्थ,परिभाषा,व्यक्तित्व परीक्षण

तर्क का अर्थ,परिभाषा,तर्क के सोपान

अधिगम के सिद्धान्त

होली पर शायरी

दोस्तों आपको यह आर्टिकल व्यक्तित्व के प्रकार पसंद आया होगा। हमें कमेंट करके जरूर बताएं। तथा इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Tags- व्यक्तित्व का अर्थ ,व्यक्तित्व की परिभाषाएं ,व्यक्तित्व के प्रकार ,व्यक्तित्व की विशेषताएं, व्यक्तित्व विकास को प्रभावित करने वाले कारक, व्यक्तित्व परीक्षण, व्यक्तिगत विकास एवं शिक्षा ,समायोजन ,समायोजन के प्रकार,व्यक्तित्व का अर्थ एवं परिभाषा, व्यक्तित्व के प्रकार, व्यक्तित्व परीक्षण, व्यक्तित्व परीक्षण की विधियां, व्यक्तित्व मापन की विधियाँ, vyaktitva ka arth evam paribhasha, vyaktitva ke prakar, vyaktitva parikshan, Vykatitva Parikshan ki vidhiyan, Vyaktitva Mapan ki vidhiyan,व्यक्तित्व कितने प्रकार का होता है?,व्यक्तित्व से आप क्या समझते हैं?,बहिर्मुखी क्या है?,अंतर्मुखी व्यक्तित्व क्या है?,पर्सनालिटी इन साइकोलॉजी,व्यक्तित्व के प्रकार pdf,व्यक्तित्व के प्रकार और विशेषता सिद्धांतों,शेल्डन के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,क्रेशमर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,spranger के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,क्रेचमर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,व्यक्तित्व परीक्षण के प्रकार,विलियम जेम्स के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,युंग के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,न्यूमैन तथा स्टर्न के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,स्प्रिंगर के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,शरीर रचना दृष्टिकोण के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,शारीरिक गुणों के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार,समाजशास्त्रीय गुणों के आधार पर व्यक्तित्व के प्रकार,मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण के अनुसार व्यक्तित्व के प्रकार,

Leave a Comment