मात्रात्मक एवं गुणात्मक मापन में अंतर | difference between quantitative and qualitative measurement in hindi 

बीटीसी एवं सुपरटेट की परीक्षा में शामिल शिक्षण कौशल के विषय शैक्षिक मूल्यांकन क्रियात्मक शोध एवं नवाचार में सम्मिलित चैप्टर मात्रात्मक एवं गुणात्मक मापन में अंतर | difference between quantitative and qualitative measurement in hindi आज हमारी वेबसाइट hindiamrit.com का टॉपिक हैं।

मात्रात्मक एवं गुणात्मक मापन में अंतर | difference between quantitative and qualitative measurement in hindi

मात्रात्मक एवं गुणात्मक मापन में अंतर | difference between quantitative and qualitative measurement in hindi

Tags  –  गुणात्मक और मात्रात्मक माप के बीच अंतर,गुणात्मक और मात्रात्मक के बीच का अंतर,difference between qualitative and quantitative, measurement in hindi,मात्रात्मक एवं गुणात्मक मापन में अंतर

मात्रात्मक/परिमाणात्मक एवं गुणात्मक मापन में अंतर | difference between quantitative and qualitative measurement in hindi

गुणात्मक और परिमाणात्मक/मात्रात्मक मापन के अन्तर को निम्नलिखित रूप में किया गया है–

क्र०सं०मात्रात्मक या परिमाणात्मक मापन (Quantitative measurement)गुणात्मक मापन (Qualitative measurement)
1परिणात्मक मापन भौतिक विज्ञान के माप हैं। गुणात्मक मापन सामाजिक विज्ञान के माप हैं। यह शिक्षा, एवं मनोविज्ञान में प्रयुक्त होते हैं।
2इसमें तथ्य स्थूल-भौतिक रूप से मापा जा सकता है।इसमें मापन भौतिक एवं स्थूल न होकर सूक्ष्म तथा जटिल होते हैं।
3इसमें माप को निश्चित इकाइयों में व्यक्त किया जा सकता है। इसमें माप निश्चित एवं निर्दिष्ट काइयों में नहीं व्यक्त किया जा सकता।
4 इसका सम्बन्ध शून्य से सदैव रहता है।
उदाहरणार्थ-30 अंक का तात्पर्य (शून्य) से ऊपर 30 अंक।
इसका सम्बन्ध शून्य से नहीं होता। शून्य आता ही नहीं है, यदि आता है तो अर्थहीन हो जाता है; जैसे-रुचि, बुद्धि परीक्षण में शून्य नहीं होता।
5इसमें इकाइयों की स्पष्टता, निर्दिष्टता सुनिश्चितता होती है। जैसे एक मीटर की सभी 3-4 इकाइयां समान है। इसमें इकाइयाँ निश्चित तथा निर्दिष्ट नहीं होती। उदाहरणार्थ-3 एवं 4 में जो अन्तर है वह 13-14 के अन्तर के समान नहीं
है। गुणात्मक मापन में दोनों के अन्तर दो अलग-अलग अर्थ रखते हैं।
6
इस मापन में माप में सम्पूर्णता होती है।
इसमें किसी बालक की बुद्धि का मापन सम्पूर्ण शुद्ध रूप में नहीं कर सकते तथा
इसमें दो मापों की परस्पर तुलना भी नहीं की जा सकती।
7परिमाणात्मक मापन में वस्तुनिष्ठता होती है।ये माप, स्थायी, स्थिर तथा निरपेक्ष होते हैं।इसमें मापन विषयगत (Subjective) अस्थिर तथा सापेक्ष (Relative) होते हैं।

आपके लिए महत्वपूर्ण लिंक

टेट / सुपरटेट सम्पूर्ण हिंदी कोर्स

ये भी पढ़ें-  परामर्श की विधियां / परामर्श की आवश्यकता एवं महत्व

टेट / सुपरटेट सम्पूर्ण बाल मनोविज्ञान कोर्स

50 मुख्य टॉपिक पर  निबंध पढ़िए

अब टाइम टेबल से नही TO DO लिस्ट बनाकर पढ़ाई करे।

Final word

आपको यह टॉपिक कैसा लगा हमे कॉमेंट करके जरूर बताइए । और इस टॉपिक को अपने मित्रों के साथ शेयर भी कीजिये ।

Tags – गुणात्मक और मात्रात्मक माप के बीच अंतर,गुणात्मक और मात्रात्मक के बीच का अंतर,difference between qualitative and quantitative, measurement in hindi,

Leave a Comment