वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण

दोस्तों हमारा आज का टॉपिक वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण है। हमे अनेक परीक्षाओं में छंदों से संबंधित प्रश्न आते हैं,जिनमे छंद के उदाहरण या उदाहरण देकर छंद का नाम पूछा जाता है। इसलिए hindiamrit.com आज आपको इस टॉपिक की विधिवत जानकारी देगा।


वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण

Tags – आल्हा छंद के उदाहरण,वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण,aalha chhand in hindi,वीर/आल्हा छंद के उदाहरण,veer chhand ke udaharan,Veer chhand ki paribhasha aur udahran,Aalha chhand ki paribhasha aur udahran,Aalha chhand ke udahran,Veer chhand in hindi,Veer / aalha chhand ki paribhasha aur udahran,veer / Aalha chhand ke udahran,Veer / aalha chhand in hindi,वीर/आल्हा छंद हिंदी व्याकरण,वीर/आल्हा छंद हिंदी ग्रामर,Veer / aalha chhand hindi grammar,

वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण

हमने आपको इस टॉपिक में क्या क्या पढ़ाया है?

(1) वीर/आल्हा छंद की परिभाषा
(2) वीर/आल्हा छंद के नियम | वीर/आल्हा छंद पहचानने का तरीका
(3) वीर/आल्हा छंद के उदाहरण स्पष्टीकरण सहित
(4) वीर/आल्हा छंद के अन्य उदाहरण


वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण
वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण


वीर/आल्हा छंद की परिभाषा | वीर/आल्हा छंद किसे कहते हैं

इसमें 16 और 15 मात्राओं पर यति होता है और कुल 31 मात्राओं का यह होता है। इस छन्द का दूसरा नाम वीर छन्द है, क्योंकि इसका प्रयोग प्रायः वीर रस में ही किया जाता है।

ये भी पढ़ें-  खेल प्रविधि / विधि | playway method / devices in hindi



वीर/आल्हा छंद के नियम | वीर/आल्हा छंद पहचानने का तरीका

(1) इसमें कुल 31 मात्रा होती है।

(2) 16 और 15 मात्राओं पर यति होती है।






वीर/आल्हा छंद के उदाहरण स्पष्टीकरण सहित


(1) सुमिरि भवानी जगदंबा को, औ सारद को सीस नवाय।
      वीर- पँवारा अब मैं गाऊँ, माता कण्ठ बिराजौ आय।

स्पष्टीकरण –

सुमिरि भवानी  जगदंबा  को,औ सारद  को  सीस  नवाय।
I I I    I SS     I I S S    S   S   S I I   S   SI  ISI  = 16+15=31          

                                   

(2) दहिने चौकी है नृसिंह की, बाये अंजनि के हनुमान।
      सनमुख चौकी जगदंबा की, ऊपरि छत्र कियो भगवान।

स्पष्टीकरण –

दहिने चौकी है नृसिंह की, बाये अंजनि के हनुमान।
I I S   SS   S S I I   S    SS  S I I   S  I I S I  =16+15=31                                           






आप अन्य छंद भी पढ़िये

» दोहा छंद  » चौपाई छंद  » सोरठा छंद  » बरवै छंद   » कुण्डलिया छंद    » छप्पय छंद    » रोला छंद  » वीर/आल्हा छंद  » उल्लाला छंद  » गीतिका छंद » हरिगीतिका छंद


★  छंद की परिभाषा ,छंद के अंग ,छंद के भेद आदि पढ़िये इसे टच करके।।









सम्पूर्ण हिंदी व्याकरण पढ़िये ।

» भाषा » बोली » लिपि » वर्ण » स्वर » व्यंजन » शब्द  » वाक्य » वाक्य शुद्धि » संज्ञा » लिंग » वचन » कारक » सर्वनाम » विशेषण » क्रिया » काल » वाच्य » क्रिया विशेषण » सम्बंधबोधक अव्यय » समुच्चयबोधक अव्यय » विस्मयादिबोधक अव्यय » निपात » विराम चिन्ह » उपसर्ग » प्रत्यय » संधि » समास » रस » अलंकार » छंद » विलोम शब्द » तत्सम तत्भव शब्द » पर्यायवाची शब्द » शुद्ध अशुद्ध शब्द » विदेशी शब्द » वाक्यांश के लिए एक शब्द » समानोच्चरित शब्द » मुहावरे » लोकोक्ति » पत्र » निबंध

ये भी पढ़ें-  लॉर्ड मैकॉले का विवरण-पत्र (1835) / प्राच्य-पाश्चात्य विवाद का अन्त

बाल मनोविज्ञान चैप्टरवाइज पढ़िये uptet / ctet /supertet

Uptet हिंदी का विस्तार से सिलेबस समझिए

हमारे चैनल को सब्सक्राइब करके हमसे जुड़िये और पढ़िये नीचे दी गयी लिंक को टच करके विजिट कीजिये ।

https://www.youtube.com/channel/UCybBX_v6s9-o8-3CItfA7Vg

दोस्तों आशा करता हूँ आपको यह आर्टिकल पसन्द आया होगा । हमें कॉमेंट करके बताइये की वीर/आल्हा छंद की परिभाषा और उदाहरण | aalha chhand in hindi | वीर/आल्हा छंद के उदाहरण आपको कैसा लगा तथा इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कीजिये ।


Leave a Comment